Iran's big announcement rages on America with the death of top commander - 'Bring the head of the trump, take 560 crore'

Iran's big announcement rages on America with the death of top commander - 'Bring the head of the trump, take 560 crore'



तेहरान। ईरान इस समय अपने कमांडर और अल कुद्स सेना के जनरल कासिम सुलेमान की मौत से खासा नाराज है। ईरान ने अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के सिर पर 80 मिलियन डॉलर यानी 560 करोड़ रुपए के ईनाम का ऐलान कर दिया है। दिलचस्‍प बात है कि अगर इस रकम की तुलना मोस्‍ट वॉन्‍टेड आतंकी लश्‍कर-ए-तैयबा के हाफिज सईद से करें तो राशि आठ गुना ज्‍यादा है। हाफिज पर अमेरिका ने 10 मिलियन डॉलर यानी 70 करोड़ का ईनाम घोषित किया है। आपको बता दें कि गुरुवार को अमेरिका की तरफ से हुई एयर स्‍ट्राइक के बाद ईरान के साथ युद्ध के आसार बढ़ गए हैं। साथ ही ईरान ने भी साफ कर दिया है कि वह अमेरिका को उसकी इस हिमाकत का जवाब देगा।


व्‍हाइट हाउस पर भी हमले की धमकी

ईरान ने सरकारी टीवी की ओर से बताया गया है कि अपने कमांडर की मौत से गुस्‍साए ईरान ने व्‍हाइट हाउस पर हमला करने की धमकी दी है। साथ ही ट्रंप के सिर पर 80 मिलियन डॉलर के ईनाम किया है। जनरल कासिम बगदाद पहुंचे थे और तभी अमेरिकी एयर स्‍ट्राइक में उनकी मौत हो गई। सुलेमानी के अंतिम संस्‍कार को नेशनल टीवी पर लाइव किया गया था। मिरर की रिपोर्ट के मुताबिक कहा गया है कि देश में हर एक ईरानी के लिए एक डॉलर हैं और जो भी अमेरिकी राष्‍ट्रपति को मारकर उनका सिर लाएगा, उसे कैश में 80 मिलियन डॉलर दिए जाएंगे। ईरान की जनसंख्‍या और ट्रंप पर रखी गई ईनाम की राशि एक बराबर है।


ट्रंप ने दी थी एयरस्‍ट्राइक की मंजूरी

पेंटागन की तरफ से बताया गया था कि इस स्‍ट्राइक की मंजूरी राष्‍ट्रपति ट्रंप की तरफ से ही दी गई थी। ट्रंप ने यह भी कहा है कि अगर किसी भी अमेरिकी नागरिक को कुछ हुआ तो फिर अमेरिका बिल्‍कुल ही असंगत तरीके से हमले करेगा। ईरान की तरफ से अमेरिका को बदले की चेतावनी दी गई है। ईराक की संसद में भी इस मसले पर वोटिंग हुई है। वोटिंग में अमेरिकी सेना से देश छोड़ने को कहा गया है। जनरल सुलेमानी की मौत के बाद से मिडिल ईस्‍ट का माहौल बदला हुआ है। अमेरिका से 3000 सैनिकों को यहां पर तैनाती के लिए भेजा गया है। इसके अलावा 5,000 सैनिक पहले से ही यहां पर तैनात हैं।


जरूर लेंगे कमांडर की मौत का बदला

ईरान के राष्‍ट्रपति हसन रूहानी शनिवार को कमांडर कासिम के घर पहुंचे थे। यहां पर उन्‍होंने उनके परिवार वालों से मुलाकात की थी। यहीं पर जैनब ने रूहानी से पूछा कि उनके पिता की मौत का बदला कौन लेने वाला है? रूहानी ने जवाब दिया, 'कमांडर सुलेमानी की मौत का बदला सभी लोग लेंगे।' रूहानी ने आगे कहा, 'आप इस बात की चिंता बिल्‍कुल न करें। आपकी पिता की मौत का बदला जरूर लिया जाएगा।' रूहानी ने कहा कि ईरानी मेजर जनरल सुलेमानी की हत्या करके अमेरिका ने बड़ी भूल कर दी है और अमेरिका केवल आज ही नहीं बल्कि आने वाले कई सालों में भी इसके अंजाम भुगतेगा।

मिसाइल फोर्सेज हाई अलर्ट पर

कासिम सुलेमानी की मौत के बाद उनका पद संभालने वाले जनरल इस्‍माइल घनी ने भी अमेरिका को बदला लेने की धमकी दी थी।जनरल घनी ने कहा था, 'इस क्षेत्र को जल्‍द ही अमेरिका से निजात दिलाएंगे। अल्‍लाह ने वादा किया है कि सुलेमानी की मौत का बदला लिया जाएगा।' जनरल घनी ने कहा था कि इस दुनिया में अल्‍लाह से बड़ा कोई नहीं है और निश्चित तौर पर इसका बदला भी लिया जाएगा।' अमेरिकी अधिकारियों की मानें तो ईरान की मिसाइल फोर्सेज पूरे देश में पहले से ज्‍यादा हाई अलर्ट की स्थिति में हैं।

Related Posts
Previous
« Prev Post